वाराणसी। बिहार सरकार में कैबिनेट मंत्री तेज प्रताप यादव (Tej pratap Yadav ) वाराणसी में अपने निजी दौरे पर पहुंचे हुए है, लेकिन बीते शुक्रवार की रात एक होटल मैनेजमेंट के कारण उन्हें देर रात भटकना पड़ा। देर रात जब वह सिगरा स्थित होटल पहुंचे, जहां वो टिके हुए थे तो उन्हें होटल प्रबंधन ने बेदखल कर दिया। होटल पहुंचने से पहले उनका सामान होटल के रिसेप्शन पर लाकर रख दिया गया था। बिना उनकी अनुमति के उनके निजी समानों को सर्च करने और निकलने पर तेज प्रताप यादव ने आपत्ति दर्ज करवाई।

देर रात करीब 12:30 बजे तेजप्रताप ने इस पूरे मामले की सूचना वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस को दी। बिहार के मंत्री को होटल से बेदखल किए जाने की सूचना जैसे ही पुलिस को मिली पूरे विभाग में हड़कंप मच गया। सिगरा थाना क्षेत्र की पुलिस टीम मौके पर पहुंची। होटल प्रबंधन से बात किया और तेज प्रताप के लिए कमरा खोलने की बात कही। जब तक होटल प्रबंधन कमरे का प्रबंध करता तब तक बात बिगड़ चुकी थी। तेज प्रताप होटल के बाहर गाड़ी में बैठ अपने सहयोगियों से होटल के खिलाफ कार्रवाई के लिए शिकायत पत्र पुलिस को दिलवाया। पुलिस के आने के बाद होटल प्रबंधन तेज प्रताप यादव को मनाने में जुट गया, लेकिन तेज प्रताप पुलिस को शिकायत पत्र सौंप वहां से चले गए।

इस घटना को लेकर वाराणसी के सिगरा थाना क्षेत्र की पुलिस टीम को मिली शिकायत में बिहार के कैबिनेट मंत्री (Bihar cabinet minister) तेज प्रताप यादव के सहायक ने बिना किसी पूर्व सूचना मंत्री तेज प्रताप के कमरे को खोलने, उनके समानों को सर्च कर फेकने के साथ का आरोप लगाते हुए, तेज प्रताप की सुरक्षा के लिए घातक बताया। वही मौके पर पहुंची सिगरा थाना क्षेत्र की पुलिस टीम इस पूरे मामले की जांच में जुटी है।

सिगरा थाना क्षेत्र के रोडवेज चौकी प्रभारी बृजेश कुमार ने बताया बिहार के मंत्री तेज प्रताप की मौजूदगी में उनके सहायकों से होटल के खिलाफ लिखित शिकायत मिला है, जिसकी जांच की जा रही है। बिहार के मंत्री तेज प्रताप से उनके ठहरने का प्रबंध किए जाने की बात कहा गया, लेकिन उन्होंने इनकार कर दिया। वह कहा गए है इसकी जानकारी की जा रही है।

Ankita Yaduvanshi

Ankita Yaduvanshi

Next Story